Dulhe ka sehra full original by Ustad Nusrat Fateh Ali Khan | NFAK Lagu MP3 Download

Dulhe ka sehra full original by Ustad Nusrat Fateh Ali Khan | NFAK

Gambar Iwan Fals - 22 Januari

Listen: 3,318,939

Date: 05 June 2017

Duration: 08:24



Dulhe ka sehra full original by Ustad Nusrat Fateh Ali Khan | NFAK Video :

Description:

Dulhe ka sehra full original by Ustad Nusrat Fateh Ali Khan | NFAK
Aah aah aah aah aah......... Shehnaiyo kee sada keh rahee hai Khushee kee mubarak ghadee aa gayee hai Sajee surkh jodee me chand see dulhan Jamin peh falak se paree aa gayee hai Aah aah aah aah aah......... - Aah aah aah aah aah......... aah aah aah - Aah aah aah aah aah......... (Dulhe kaa sehra suhana lagta hai - Dulhan kaa toh dil divana lagta hai) - Palbhar me kaise badalte hain rishte - Abb toh har apna begana lagta hai (Dulhe kaa sehra suhana lagta hai Dulhan kaa toh dil divana lagta hai) - (Sat phero se bandha janmo kaa yeh bandhan Pyar se joda hai rab ne prit kaa daman) - (2) Hain nayee rasme, nayee kasme, nayee uljhan Honth hai khamosh, lekin keh rahee dhadkan Dhadkan dhadkan dhadkan........ - (2) Dhadkan meree dhadkan, dhadkan teree dhadkan - (2) Dhadkan dhadkan dhadkan........ - (2) Dhadkan meree dhadkan, meree dhadkan Mushkil ashko ko chhupana lagta hai - (2) Dulhan kaa toh dil divana lagta hai Palbhar me kaise badalte hain rishte Abb toh har apna begana lagta hai (Dulhe kaa sehra suhana lagta hai Dulhan kaa toh dil divana lagta hai) Mai teree baho ke jhule me palee babul Ja rahee hu chhodke teree galee babul Mai teree baho ke jhule me palee babul Ja rahee hu chhodke teree galee babul Khubsurat yeh jamane yad aayenge Chahke bhee ham tumhe naa bhul payenge Muskhil, mushkil, mushkil daman ko churana lagta hai Dulhan kaa toh dil divana lagta hai Mushkil daman ko churana lagta hai Dulhan kaa toh dil divana lagta hai Palbhar me kaise badalte hain rishte Abb toh har apna begana lagta hai (Dulhe kaa sehra suhana lagta hai Dulhan kaa toh dil divana lagta hai) - Dhadkan dhadkan dhadkan........ - शेहनाइयो की सदा कह रही है ख़ुशी की मुबारक घडी आ गयी है सजी सुर्ख जोड़ी मे चांद सी दुल्हन ज़मीन पे फलक से पारी आ गयी है दुल्हे का सेहरा सुहाना लगता है.. दुल्हन का तो दिल दीवाना लगता है दुल्हे का सेहरा सुहाना लगता है दुल्हन का तो दिल दीवाना लगता है पलभर मे कैसे बदलते है रिश्ते.. अब तो हर अपना बेगाना लगता है दुल्हे का सेहरा सुहाना लगता है, दुल्हन का तो दिल दीवाना लगता है.. सात फेरो से बंधा जन्मो का यह बंधन, प्यार से जोड़ा है रब ने प्रीत का दामन.. है नयी रस्में, नयी कसमें, नयी उलझान होंठ है खामोश, लेकिन कह रही धड़कन धड़कन धड़कन, धड़कन धड़कन.. धड़कन मेरी धड़कन, धड़कन तेरी धड़कन.. धड़कन, धड़कन, धड़कन, धड़कन.. धड़कन, मेरी धड़कन, मेरी धड़कन मुश्किल अश्को को छुपाना लगता है.. दुल्हन का तो दिल दीवाना लगता है पलभर मे कैसे बदलते है रिश्ते अब तो हर अपना बेगाना लगता है दुल्हे का सेहरा सुहाना लगता है, दुल्हन का तो दिल दीवाना लगता है.. मै तेरी बाहो के झूले मे पली बाबुल जा रही हूं छोडके तेरी गली बाबुल मै तेरी बाहो के झूले मे पली बाबुल...जा रही हूं छोडके तेरी गली बाबुल खूबसूरत यह ज़माने याद आयेगे चाहके भी हम तुम्हे न भूल पायेगे मुस्खिल मुश्किल, मुश्किल दामन को चुराना लगता है दुल्हन का तो दिल दीवाना लगता है मुश्किल दामन को चुराना लगता है दुल्हन का तो दिल दीवाना लगता है पलभर मे कैसे बदलते है रिश्ते अब तो हर अपना बेगाना लगता है दुल्हे का सेहरा सुहाना लगता है, दुल्हन का तो दिल दीवाना लगता है...... धड़कन धड़कन, धड़कन धड़कन...

Download Lagu MP3 Terkait :

Download Lagu